लफ्ज़

By: Manisha Shaw

ये लफ्ज़ ही तो हैं.... जो किसी की ताकत तो किसी की मजबूरी बन जाती है।