चांदनी

By: Parisa Gupta

रोशन करती है रात को चांदनी जिस प्रकार,

पूरी हो ख्वाइश तो भर्ती है जीवन में खुशियां अपार ।।