सूरजमुखी...

By: Virat.....

मैंने देखा अजब एक बंदा,

सूरज के सामने रहता ठंडा...

धूप में जरा नहीं घबराता,

​​​​​​सूरज की तरफ मुख लटक जाता....

​​​