झूठी बातें

By: Sangita

झूठी बातें बहकाती है,

गलती कर समझ भी आती है।

टिकती नहीं झूठ दिनों दिन,

सदा सब उलझती है।।