अद्वितीय व्यक्ति

By: Mr. Mahendra Dwivedi

जी हाँ हर एक रेस में एक अलग धावक होता है! 
कुछ खास नहीं उसमें, पर वह अपनी जिद पर अड़ा होता है! 
दुनिया भला कहे या बुरा, वह अपनी नजर में बड़ा होता है! 
अब इसे उसका हुनर कहो या घमंड, ये आपकी सोच पर निर्भर होता है! 
मैं यह नहीं कहता, वह सबके लिए ही खास होता है! 
कद्र तो वही करते हैं, जिन्हे इनकी कीमत का एहसास होता है!