कैची

By: Ravi Nandan

अंदर मेरे चिलमन बाहर मेरे चिलमन 

बीच कलेजा धड़के  

नाकु सिन्हा यू कहें 

दो दो अंगुल सरके..