है गुजारिश की वो अपने शहर हों ठीक... !

By: Rahul Kiran

है गुजारिश रब से की  वो अपने शहर हों ठीक
 तुम भी अपने शहर ठीक रहो ... 

 यूँ ही गुफ्तगू होती रहे हो न हो नापाह
नजर इस तैस  से हमेशा जीते रहो ..!