अगर मैं ना रहुं तो....

By: Shravani Prakash Lingade

संभाल लेना खुदको अगर मैं ना रहुं तो...
सवर लेना खुदको अगर मैं ना रहुं तो...
कुछ तुम्हारी कुछ हमारी बदल रही हैं जिंदगी...
बस कैंद कर लेना हमेशा अपनी यादों में..
अगर मैं ना रहुं तो..।
मन्नते पूरी हुई ...
अब ना कोई ख्वाईश हैं ।
बस दुआंओ में जिक्र करना ...अगर मैं ना रहुं तो...।
ये कहानी ना किसीने देखी है ना किसीने सुनी हैं..
बस भूल जाना सबकुछ इक हादसा समझकर..
अगर मैं ना रहुं तो ....अगर मैं ना रहुं तो...।।