Jeena bhul rahe

By: Ruchika sethi

प्यार की कमी नहीं हैं, 

लोग प्यार करना भूल गए हैं, 

काम की भीड़ और तन्हाई में, 

लोग जीना भूल गए हैं