पता नहीं क्यों.?

By: Rahul Kiran

पता नहीं क्यों.? 

तुम्हें देखकर मेरा दिल ​​​​​​जोड़ो धड़कता है.! 

पर क्या करें हुजूर..! 

ऐहसास तो हमें ही होता है न..!