दर्द भरे अफ़साने – KUMAR DHRUVS

Dard Bhare Afsane

by Kumar Dhruv

₹110.00

Genre
ISBN 978-93-88497-32-9
Languages Hindi
Pages 60
Cover Paperback

Product Description

दर्द भरे अफ़साने चालीस कविताओं की पुस्तक है जिसमे कुछ राजनैतिक, रूमानी (Romantic) और आज-कल जो हमारे देश में घटनाएं घट रही है, उसी के ऊपर कुछ व्यंग्यात्मक कवितायेँ हैं ! ये आवाज़ हमारे देश की जनता की आवाज़ है और आशा है कि पाठक को मनोरंजन के साथ-साथ हमारे देश में हमारे ही इर्द-गिर्द जो घटनाएं घट रही है, उसका पूरा वर्णन है ! इन ग़ज़लों को और कविताओं को पड़ने से आप को ऐसा लगेगा कि ये आप की ही आवाज़ है ! आज हर एक देशवासिओं के दिल में ये दर्द है कि इस देश में फिर से गाँधी जी, शास्त्री जी और भगत सिंह जैसे लोग फिर से जन्म क्यों नहीं ले रहे हैं !

 

About the Author

कुमार ध्रुव की ये पांचवीं पुस्तक है जिसमे से ग़ज़ल और कविताओं की ये दूसरी पुस्तक है ! उनकी अंग्रेज़ी में THE INSIDE
STORY OF INDIAN POLITICS और HOW TO FULFILL AND ACHIEVE YOUR FINANCIAL GOAL
प्रकाशित हो चुकी है तथा हिंदी में “दिल की आवाज़” और “भारत की राजनीति की अंदर की बात” नाम कि पुस्तक प्रकाशित हो
चुकी है जो आप के लिए ऑन-लाइन उपलब्ध है ! लेखक राष्ट्रीय स्तर के हॉकी के खिलाड़ी रहे हैं एवं अभी वे अंतराष्ट्रीय वेटेरन
टेबल टेनिस के खिलाड़ी भी हैं तथा हारमोनिका के कलाकार भी हैं ! कुमार ध्रुव जी का असली नाम ध्रुव मुख़र्जी है जो एक बंगाली
परिवार से आते हैं और स्वराज आंदोलन से भी जुड़े हुए हैं ! आप अपनी राय निम्नलिखित इ-मेल में लेखक को भेज सकते हैं :-
natpubindia@rediffmail.com

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Dard Bhare Afsane”

*

Also Available on:

Flipkart Amazon