Jyotish Visheshank ज्योतिष विशेषांक : मान्यताएं तथा पौराणिक सन्दर्भ कथाएं - ZorbaBooks
ज्योतिष विशेषांक

Jyotish Visheshank ज्योतिष विशेषांक : मान्यताएं तथा पौराणिक सन्दर्भ कथाएं

by श्री ललित मोहन कगड़ियाल

199.00

E-Book Price ₹199 / $5.99

ISBN 978-93-5896-245-1
Languages Hindi
Pages 146
Cover Paperback
E-Book Available

Description

ज्योतिष एक प्राचीन वेदांग है, जो सूर्य, पृथ्वी, और नक्षत्रों की गति और स्थिति की गणना करता है। इस शास्त्र को समझने के लिए पुस्तकों में लिखे सूत्रों के साथ-साथ अन्य कारकों पर भी समग्र दृष्टि रखनी होती है।
इस पुस्तक, ज्योतिष विशेषांक : मान्यताएं तथा पौराणिक सन्दर्भ कथाएं , में ज्योतिष के विभिन्न पहलुओं का विस्तार से वर्णन किया गया है, जिसमें चन्द्र कुंडली, उच्च और नीच ग्रह, वक्री ग्रह, दशा, ग्रहण दोष, मांगलिक दोष, और राज योग जैसे विषय शामिल हैं। इसमें शुक्र राजयोग, राहु-केतु, बुध, और कर्क लग्न जैसे विशिष्ट ज्योतिषीय मुद्दों पर भी प्रकाश डाला गया है। पुस्तक जीवन के विभिन्न पहलुओं पर ज्योतिष के प्रभाव की चर्चा करती है, जैसे पंचम भाव का भाग्य से संबंध, कुंडली का छठा भाव, और सप्तम भाव।
ज्योतिष विशेषांक; उन सभी के लिए एक समग्र मार्गदर्शक है जो ज्योतिष के रहस्यों और पौराणिक कथाओं के माध्यम से जीवन की गूढ़ताओं को समझना चाहते हैं।

**लेखक परिचय: ज्योतिष विशेषांक: मान्यताएं तथा पौराणिक सन्दर्भ कथाएं**

लेखक, श्री ललित मोहन कगड़ियाल,  ने ज्योतिष की प्रारंभिक शिक्षा अपने स्वर्गीय दादाजी के शोध पत्रों से प्राप्त की। इसके बाद उन्होंने देवभूमि हरिद्वार और ऋषिकेश के ज्योतिष आचार्यों के सानिध्य में रहकर ज्योतिष का अध्ययन शुरू किया। दो वर्षों के पश्चात, विधिवत रूप से परंपरागत शिक्षा प्राप्त की और राजकीय महाराज आचार्य संस्कृत महाविद्यालय जयपुर से ज्योतिष पर प्रशस्ति पत्र प्राप्त किया। इसके साथ ही, अखिल भारतीय प्राच्य ज्योतिष शोध संस्थान से वेदांग भूषण की उपाधि भी प्राप्त की।

हिमालय की सुदूर यात्राओं के दौरान, उन्हें यह जानने का अवसर मिला कि ज्योतिष किसी न किसी रूप में हर जगह मौजूद था। इन यात्राओं के दौरान कुछ ऐसी घटनाएं घटीं जिन्होंने उनके दृष्टिकोण को नए आयाम दिए, जिससे ज्योतिष उनके लिए मात्र आजीविका का साधन न रहकर एक साधना का विषय बन गया।

लेखक का संकल्प है कि वे अपने पूर्वजों की धरोहर को शोध द्वारा आधिकारिक रूप से सामान्य जनमानस की सेवा में लाएं और ज्योतिष को परंपरागत भाषा से इतर, वैज्ञानिक दृष्टिकोण से पाठकों और ज्योतिष के जिज्ञासुओं तक पहुंचाएं। पिछले 23 वर्षों से वे विभिन्न रूपों में ज्योतिष के क्षेत्र में सेवा प्रदान कर रहे हैं।

Browse books from Zorba books store

1 review for Jyotish Visheshank ज्योतिष विशेषांक : मान्यताएं तथा पौराणिक सन्दर्भ कथाएं

  1. Reader SAM

    Imagine embarking on a captivating voyage—one that intertwines ancient mythological characters with the enigmatic realms of Jyotish (Vedic astrology).
    This book weaves together knowledge and adventure, inviting readers to explore uncharted territories within both mythology and cosmic wisdom. As you turn the pages, you’ll uncover hidden facets of Jyotish, all while immersing yourself in a rich tapestry of fascinating storytelling.
    I’m ready to embark on this literary odyssey, I’d say it’s definitely a “must read!”

Add a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Sample View